आगरा में 25 मिनट में 8.5 करोड़ की लूट: मणप्पुरम गोल्ड के ऑफिस में घुसकर 17 किलो सोना और 5 लाख रुपए लूटने वाले 2 बदमाश एनकाउंटर में मारे गए

0
8
Advertisement


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • The Employees Were Taken Hostage By Entering Mannapuram Gold’s Office, The Miscreants Took 17 Kg Gold And 5 Lakh Cash In Agra

आगरा6 घंटे पहले

  • लूट के कुछ देर बाद ही एनकाउंटर में दोनों बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

आगरा के कमलानगर में शनिवार को दिनदहाड़े 8.5 करोड़ रुपए की लूट करने वाले 4 बदमाशों में से पुलिस ने 2 को एनकाउंटर में मार गिराया है। पुलिस मुठभेड़ के दौरान दोनों लुटेरे घायल हो गए थे, जिसके बाद उन्हें एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

एत्मादपुर में खंदौली चौराहे पर हुई मुठभेड़
लूट के बाद फरार हुए बदमाशों को एत्मादपुर पुलिस ने खंदौली चौराहे पर घेर लिया। यहां पर उनकी बदमाशों के साथ मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में मारे गए बदमाशों में फिरोजाबाद का रहने वाला मनीष पांडेय और निर्दोष कुमार को गोली लगी थी। पुलिस ने इनको गिरफ्तार कर इनके पास से लूट का आधा माल और दो तमंचे व कारतूस बरामद किए थे। इनके दो साथी नरेंद्र उर्फ लाल और अंशु फरार हैं। घायल बदमाशों को पुलिस ने इलाज के लिए एसएन मेडिकल कालेज भेजा था, जहां पर रात करीब साढे़ 8 बजे उनकी मौत हो गई।

इससे पहले आज दोपहर को हथियारों के साथ मणप्पुरम फाइनेंस लिमिटेड के ऑफिस में घुसे 4 बदमाशों ने स्टाफ को बंधक बना लिया था। जिसके बाद बदमाशों ने 17 किलो सोना और 5 लाख रुपए लूट ले गए थे। वारदात के बाद पुलिस ने पूरे शहर में नाकाबंदी कर दी थी। यहीं एत्मादपुर इलाके में पुलिस की बदमाशों के साथ मुठभेड़ हुई थी।

बदमाशों ने यह पूरी घटना महज 25 मिनट में अंजाम दी। इस दौरान 2 बदमाश ऑफिस के बाहर खड़े रहे। लूट के बाद सभी अलग-अलग रास्तों पर भाग निकले। घटना के बाद पुलिस CCTV फुटेज की मदद से लुटेरों की पहचान में जुट गई। पुलिस ने रेकी करने वाले एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है।

मेडिकल स्टोर के कर्मचारी ने रेकी की
लूट के वक्त ऑफिस के अंदर मौजूद एक संदिग्ध को पुलिस ने हिरासत में लिया है। उसका नाम हर्ष बताया जा रहा है। हर्ष फाइनेंस कपंनी से करीब 200 मीटर दूर रहता है। वह कंपनी के ऑफिस के सामने मेडिकल स्टोर पर काम करता है। कहा जा रहा है कि रेकी इसी ने की।

लूट के बाद बदमाश बैग में सोना भरकर फरार हो गए। बदमाशों की तस्वीरें CCTV में कैद हो गई हैं।

ग्राहक बनकर ऑफिस में घुसे
बदमाशों की उम्र 22 से 26 साल के बीच है। वे स्थानीय भाषा बोल रहे थे। ग्राहक बनकर दो-दो बदमाश ऑफिस में घुसे। उन्होंने मैनेजर से गोल्ड लोन लेने की बात की और अचानक हथियार निकालकर मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद मैनेजर समेत चारों कर्मचारियों को केबिन में बंद कर दिया। बाद में मैनेजर को ले जाकर स्ट्रांग रूम खुलवाया। बदमाश अपने साथ बैग लेकर आए थे। उन्हीं में सोना भरकर ले गए।

25 मिनट में हो गई लूट
बदमाश दोपहर 2.05 बजे ऑफिस में घुसे थे। इसके बाद 2.30 बजे बाहर निकल गए। वारदात के समय कंपनी में कोई ग्राहक नहीं था। अंदर 4 कर्मचारी थे। भागते समय बदमाश चैनल गेट बाहर से बंद कर गए। 2.48 बजे पुलिस को सूचना दी गई। इसके 5 मिनट बाद पहुंची पुलिस ने गेट खोला। वारदात के बाद सभी बदमाश पैदल ही अलग-अलग दिशाओं में भागे। एक बदमाश खाली हाथ था, जबकि तीन के पास बैग थे।

बदमाशों ने दुकानदार से पूछा सायरन तो नहीं बजा
किसी ग्राहक के अंदर मौजूद न होने से बदमाशों को लूट में कोई दिक्कत नहीं हुई। हालांकि भागते समय उन्होंने बगल के दुकानदार से पूछा कि कोई सायरन तो नहीं बजा। वारदात के बाद शहर की सीमाएं सील कर दी गई हैं। पुलिस का कहना है कि संस्थान में सिक्योरिटी का कोई इंतजाम नहीं था।

थाना प्रभारी नरेंद्र शर्मा ने बताया कि उन्होंने कंपनी को इस बारे में कई बार आगाह किया था। अलार्म भी कई बार बज चुका है, इसलिए लोगों को ज्यादा शक नहीं हुआ।

घटना के बाद आगरा के बड़े पुलिस अफसरों सहित कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई।

घटना के बाद आगरा के बड़े पुलिस अफसरों सहित कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई।

पुलिस ने आसपास की दुकानों के CCTV फुटेज खंगाले।

पुलिस ने आसपास की दुकानों के CCTV फुटेज खंगाले।

यूपी में अब तक की बड़ी लूट की वारदातें

  • 27 जनवरी 2020 को शमसाबाद के मोहल्ला हरसहाय खिड़की में सर्राफ मुकेश गुप्ता और उनकी पत्नी लता गुप्ता की हत्या कर 4 करोड़ 76 लाख की लूट की गई थी।
  • 15 फरवरी 2015 को वेस्ट यूपी की सबसे बड़ी डकैती की वारदात सहारनपुर में हुई थी। जिसमें 8 बदमाशों ने दिनदहाड़े तनिष्क शोरूम से 10 करोड़ की ज्वेलरी लूट ली थी।



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here