ओलिंपिक गेम्स की भविष्यवाणी: भारत अब तक के सबसे ज्यादा 17 मेडल जीत सकता है, यानी 9 साल पहले हुए लंदन ओलिंपिक से तीन गुना ज्यादा

0
17
Advertisement


  • Hindi News
  • Sports
  • Global Sports Data Company Survey Declares India Will Win 17 Medals At Olympics | India At Tokyo Olympics

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

इस बार भारत का सबसे बड़ा दल टोक्यो ओलिंपिक में हिस्सा लेने जा रहा है। भारतीय स्क्वॉड में 228 मेंबर होंगे। इसमें 124 एथलीट शामिल हैं। इसमें से 69 पुरुष और 55 महिला एथलीट और बाकी स्टाफ मेंबर्स होंगे। भारतीय एथलीट इस बार 85 मेडल के लिए दावेदारी पेश करेंगे। ग्लोबल स्पोर्ट्स डेटा कंपनी ग्रेसनोट के मुताबिक भारत इस बार अपने अभियान में कामयाब होगा।

टीम पिछले बार से ज्यादा मेडल जीतने में कामयाब होगी। 2012 लंदन ओलिंपिक में भारत ने सबसे ज्यादा 6 मेडल जीते थे। रिपोर्ट के मुताबिक, इस बार भारतीय ओलिंपिक टीम लंदन ओलिंपिक से 3 गुना ज्यादा मेडल जीतने में कामयाब होगी। रिपोर्ट के मुताबिक इंडियन एथलीट्स इस बार 17 मेडल जीतेंगे।

भारत के लिए लंदन ओलिंपिक सबसे सफल
भारत का अब तक का सबसे सफल ओलिंपिक 2012 लंदन ओलिंपिक रहा था। इसमें भारत ने 2 सिल्वर और 4 ब्रॉन्ज समेत कुल 6 मेडल जीते थे। 2008 बीजिंग ओलिंपिक में टीम इंडिया ने 1 गोल्ड और 2 ब्रॉन्ज समेत 3 मेडल जीते थे। जबकि 2016 रियो ओलिंपिक, 1952 हेलसिंकि ओलिंपिक और 1900 पेरिस ओलिंपिक में 2-2 मेडल अपने नाम किए थे।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस बार टोक्यो ओलिंपिक में भारतीय टीम 4 गोल्ड, 5 सिल्वर और 8 ब्रॉन्ज मेडल जीतने में कामयाब होगी। इसमें से शूटिंग में 8, बॉक्सिंग में 4, रेसलिंग में 3 और वेटलिफ्टिंग और आर्चरी में 1 मेडल हासिल होगा।

6 ओलिंपिक में एक भी मेडल नहीं जीत सके
भारत ने अब तक 24 ओलिंपिक में हिस्सा लिया है। इसमें से 6 ओलिंपिक में एक भी मेडल नहीं जीत सका। टीम ने 9 गोल्ड, 7 सिल्वर और 12 ब्रॉन्ज समेत कुल 28 मेडल जीते हैं। दुनियाभर के देशों की तुलना में भारत ओलिंपिक मेडल टैली में 53वें नंबर पर है।

1896 से मॉडर्न ओलिंपिक गेम्स आयोजित हो रहे हैं। तब से दुनिया ने अमेरिका, सोवियत संघ, ब्रिटेन, चीन, फ्रांस, जर्मनी, इटली और जापान जैसे देशों को महाशक्ति के दौर पर देखा। ओलिंपिक की ऑल टाइम मेडल टैली के टॉप-10 पर नजर डालें तो इन्हीं देशों का दबदबा दिखता है।

अमेरिका और सोवियत संघ टॉप-2 पोजिशन पर हैं। अमेरिका ने अब तक 1022 गोल्ड, 795 सिल्वर और 705 ब्रॉन्ज मेडल समेत कुल 2522 मेडल जीते हैं। जबकि सोवियत संघ ने 395 गोल्ड, 319 सिल्वर और 296 ब्रॉन्ज मेडल समेत कुल 1010 मेडल जीते। ग्रेट ब्रिटेन इस मामले में तीसरे नंबर पर है। उसने 263 गोल्ड, 295 सिल्वर और 293 ब्रॉन्ज समेत कुल 851 मेडल अपने नाम किए।

शूटिंग टीम से भारत को सबसे ज्यादा उम्मीद
भारत को इस बार सबसे ज्यादा उम्मीद शूटिंग टीम से है। टीम में सौरभ चौधरी, मनु भाकर, यशस्विनी देसवाल और संजीव राजपूत से काफी उम्मीदें हैं। जबकि बॉक्सिंग में मेरीकॉम और अमित पंघल मेडल जीत सकते हैं। रेसलिंग में विनेश फोगाट और बजरंग पूनिया जैसे खिलाड़ियों से उम्मीदें हैं। आर्चरी में दीपिका कुमारी मेडल जीत सकती हैं।

भारत ने ओलिंपिक में सबसे ज्यादा मेडल हॉकी में जीते हैं। टीम ने 1928, 1932, 1936, 1948, 1952, 1956, 1964 और 1980 ओलिंपिक में गोल्ड मेडल जीता था। इसके अलावा 1960 में सिल्वर और 1968 और 1972 में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था। 1980 के बाद से टीम कोई मेडल नहीं जीत सकी है। शूटिंग में इकलौता गोल्ड 2008 ओलिंपिक में अभिनव बिंद्रा ने जीता था।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here