क्रिकेटर ईशान किशन के पैरेंट्स का EXCLUSIVE इंटरव्यू: मां ने कहा- सपना था कि बेटे को TV पर मैच खेलते देखूं, पिता बोले- ईशान की मेहनत ने उसे यहां तक पहुंचाया

0
10



पटनाएक घंटा पहलेलेखक: बृजम पांडेय

ईशान किशन और उनके मां-पिता।

बिहार के ईशान किशन का सेलेक्शन टी-20 वर्ल्ड कप में हुआ है। वह अंतिम 15 सदस्य टीम में शामिल हैं। वर्ल्ड कप में ईशान किशन के चयन के बाद उनके घर में खुशी है। पिता प्रणव पाण्डेय और मां सुचित्रा सिंह इसे ईशान किशन की मेहनत का परिणाम बताते हैं। उनका कहना है कि ईशान ने कभी विपरित परिस्थिति से हार नहीं मानी। यही वजह रही कि ईशान खेलते रहे और उन्हें सफलता मिलती रही। पटना में मौजूद ईशान के माता पिता से खास बात की दैनिक भास्कर संवाददाता बृजम पाण्डेय ने…

पिता प्रणव पांडेय ने बताया कि ईशान बचपन से ही क्रिकेट खेल रहे हैं। वो जब 6 साल का था तब से क्रिकेट खेल रहा है। उसकी मेहनत ने ही उसको इस मुकाम तक पहुंचाया है। हमें भरोसा था कि बेटे का T-20 वर्ल्ड कप में सेलेक्शन हो जाएगा। मुझे मेरे एक परिचित ने फोन कर इसकी जानकारी दी थी। अभी ईशान IPL खेलने के लिए दुबई में हैं। लगातार उससे बातचीत होती है। ईशान कभी नर्वस नहीं होता है। वो अपने संघर्ष के दिनों में भी हार नहीं मानता था। वो अक्सर अपनी कमियों को दूर करने की कोशिश करता हैं। मैं भी उनकी कमियों को बताता रहता हूं।

मां ने कहा- अब तो बेटे से मुलाकात ही नहीं हो पाती
ईशान की मां सुचित्रा सिंह ने बताया कि जब ईशान क्रिकेट खेलता था तो ये सपना था, कभी उसके खेल को टीवी पर देखूं। पहले उसके मैच को देख नहीं पाई। भगवान से दुआ होती थी कि वो अच्छा खेले। T-20 वर्ल्ड कप में सेलेक्शन को लेकर उन्होंने कहा कि मैं चाहती हूं कि इस बार T-20 का वर्ल्ड कप इंडिया जीते। सुचित्रा सिंह कहती है कि अब तो ईशान से मुलाकात ही नही हो पाती है। अब वो लगातार बाहर ही रहता है। पिछले दिनों लॉकडाउन में साथ रह पाए थे, लेकिन अब थोड़ा कम हो गया है। ईशान के खाने के बारे में उनकी मां कहती है कि वो सादा खाना ही पसंद करता है, लेकिन जब भी उसे कुछ चटपटा खाना होता है तो मैं बनाती हूं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here