मोदी के मंत्री की राष्ट्रीयता पर सवाल: गृह राज्यमंत्री निशीथ प्रमाणिक के बांग्लादेशी नागरिक होने का दावा, मानसून सेशन से पहले तृणमूल ने मुद्दा उठाया

0
12
Advertisement


  • Hindi News
  • National
  • Nisith Pramanik Nationality Controvercy| Trinamool Congress Raise Issue Union Ministers Nationality Before Parliament Session

नई दिल्ली17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मोदी सरकार में हाल में हुए फेरबदल के दौरान 35 साल के प्रमाणिक (बुके ले रहे) को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है।

संसद के मानसून सत्र से ठीक पहले गृह राज्य मंत्री और पश्चिम बंगाल से सांसद निशीथ प्रमाणिक की नागरिकता पर सवाल उठ रहे हैं। बीते शुक्रवार को असम के कांग्रेस सांसद और प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर प्रमाणिक के बर्थ प्लेस और राष्ट्रीयता की जांच की मांग की थी। अब तृणमूल नेताओं ने भी इस मुद्दे को उठाया है।

बोरा ने कुछ मीडिया रिपोर्ट्स का हवाला देते हुए कहा था कि प्रमाणिक बांग्लादेशी नागरिक हैं। यह गंभीर चिंता का विषय है कि एक विदेशी नागरिक मौजूदा केंद्रीय मंत्री है। उन्होंने प्रधानमंत्री से इस मामले में स्थिति साफ करने और जांच की गुजारिश की है। उन्होंने मोदी को लिखा लेटर शेयर भी किया था।

BJP ने आरोप खारिज किए
बंगाल के शिक्षा मंत्री ब्रत्य बसु ने बोरा की बात का समर्थन करते हुए कहा है कि वे सही सवाल पूछ रहे हैं। राज्य के एक और मंत्री इंद्रनील सेन ने कहा कि वह यह जानकर हैरान थे कि केंद्रीय मंत्री निशीथ प्रमाणिक बांग्लादेश के नागरिक हो सकते हैं।

हालांकि, BJP ने इस तरह के आरोपों को खारिज कर दिया है। पार्टी के पश्चिम बंगाल प्रवक्ता समिक भट्टाचार्य ने कहा कि उन्हें सबूत दिखाने दीजिए। सिर्फ उंगली उठाना ही काफी नहीं है। प्रमाणिक की नागरिकता के मामले में किसी ने अब तक कोई सबूत पेश नहीं किया है।

बांग्लादेश से की गई पोस्ट से उठा विवाद
सबसे पहले यह सवाल सोशल मीडिया पर की गई एक पोस्ट से उठा था। यह पोस्ट बांग्लादेश से की गई थी। प्रमाणिक के राज्यमंत्री बनाए जाने पर इस पोस्ट में उन्हें बांग्लादेश के गैबांधा जिले के हरिनाथपुर का कामयाब बेटा बताया गया था। साथ ही लिखा था कि उन्होंने पश्चिम बंगाल में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई की है।

ये पोस्ट पूजार मेला नाम के संगठन ने की थी। यह खुद को बांग्लादेश का एक धार्मिक संगठन बताता है। बाद में पोस्ट हटा दी गई।

कूच बिहार से सांसद हैं प्रमाणिक
मोदी सरकार में हाल में हुए फेरबदल के दौरान 35 साल के प्रमाणिक को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया था। उनके लोकसभा बायो में कहा गया है कि उनका बर्थ प्लेस पश्चिम बंगाल के कूच बिहार जिले में दिनहाटा है। उनके पास कंप्यूटर एप्लीकेशन में ग्रेजुएशन की डिग्री है।

यह पहली बार नहीं है जब कूच बिहार के सांसद हाल के दिनों में सुर्खियों में आए हैं। तृणमूल नेताओं ने उनकी एजुकेशन क्वालिफिकेशन पर भी सवाल उठाए हैं। उन पर हत्या सहित 12 से ज्यादा क्रिमिनल केस भी दर्ज हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here