सिद्धू माफी मांगें, तो ही मिलेंगे कैप्टन: सिद्धू पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष होंगे, लेकिन कैप्टन की मर्जी से बनेंगे 2 कार्यकारी अध्यक्ष; कैबिनेट विस्तार में भी फ्री हैंड

0
14
Advertisement


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Sidhu Will Be The Head Of Punjab, In Cabinet Reshuffle, Captain Will Name 2 Executive Heads, Sidhu Will Have To Apologize Publicly

नई दिल्ली7 मिनट पहलेलेखक: हेमंत अत्री

  • कॉपी लिंक

पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच सुलह का मसौदा तैयार हो गया है। कांग्रेस आलाकमान ने इसके लिए 4 सूत्रीय फॉर्मूला तैयार किया है। इसके तहत, सिद्धू पंजाब कांग्रेस के नए अध्यक्ष होंगे। सिद्धू के साथ 2 कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाएंगे, जिनके नाम अमरिंदर तय करेंगे। कैबिनेट में फेरबदल में भी कैप्टन को फ्री हैंड मिलेगा। किसी को मंत्री बनाने या कैबिनेट से हटाने में सिद्धू समेत किसी नेता का दखल नहीं रहेगा। कांग्रेस एक-दो दिन में सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष बनाने का औपचारिक ऐलान कर सकती है।

कैप्टन ने रखी शर्त, सार्वजनिक माफी मांगे सिद्धू
इस मामले में सबसे बड़ा पेंच सिद्धू और कैप्टन की मुलाकात को लेकर फंस गया है। कांग्रेस के पंजाब इंचार्ज हरीश रावत के आगे कैप्टन ने शर्त रखी है कि वो सिद्धू से तभी मिलेंगे, जब वे उनके पहले दिए गए बयानों के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगेंगे। सिद्धू ने कैप्टन सरकार पर श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी से लेकर रेत माफिया और बिजली संकट से जुड़े कई गंभीर आरोप लगाए थे।

इन आरोपों के बाद कैप्टन बहुत नाराज हैं। कैप्टन ने आलाकमान के प्रतिनिधि बनकर पहुंचे रावत से साफ कह दिया कि सिद्धू को जिस तरह सार्वजनिक आरोप लगाए हैं, उसी तरह खुलेआम माफी भी मांगनी होगी। उसके बाद ही वे सिद्धू से मिलेंगे। रावत के साथा बातचीत में इस बात पर सहमति बनी कि वे 2 कार्यकारी अध्यक्ष बनाने और कैबिनेट में फेरबदल कर सकते हैं, इससे सिद्धू को कोई एतराज नहीं होगा।

हाईकमान से भी नाराज कैप्टन
कैप्टन अमरिंदर सिंह हाईकमान से भी नाराज चल रहे हैं। उनका मानना है कि पंजाब कांग्रेस में हुई कलह को हाईकमान ने सही ढंग से हैंडल नहीं किया। इस वजह से पार्टी के साथ उनकी छवि को भी नुकसान पहुंचा है। इसको लेकर अब कैप्टन सिद्धू की माफी की शर्त पर अड़ गए हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here