19 Years Of Devdas: ‘देवदास’ पर संजय लीला भंसाली ने पानी की तरह बहाए थे पैसे, ऐश्वर्या-माधुरी ने पहनी थी लाखों की ड्रेस

0
14
Advertisement


मुंबईः फिल्ममेकर संजय लीला भंसाली (Sanjay Leela Bhansali) अपनी फिल्मों की भव्यता के लिए जाने जाते हैं. फिल्म के सेट से लेकर कलाकारों के कपड़ों तक पर संजय लीला भंसाली हर चीज का बारीकी से ध्यान रखते हैं. देवदास (Devdas) भी संजय लीला भंसाली की ऐसी ही फिल्मों में से एक है. जिस पर उन्होंने पैसे पानी की तरह बहाए थे. फिल्म देवदास आज से 19 साल पहले रिलीज हुई थी. उन्होंने इस फिल्म के एक-एक दृश्य को असाधारण बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी. इससे पहले भंसाली ने 1999 की अपनी फिल्म ‘हम दिल दे चुके सनम (Hum Dil De Chuke Sanam)’ के साथ दर्शकों को मंत्रमुग्धकर दिया था. लेकिन देवदास के साथ, उन्होंने एक इतिहास रच दिया.

भव्य सेट पर फिल्माई गई एक असाधरण प्रेम कथा को आज पूरे 19 साल हो चुके हैं. इस मौके पर हम आपको इस फिल्म में लीड एक्ट्रेसेस ऐश्वर्या राय और माधुरी दीक्षित की पहनी उन रॉयल ड्रेसेस के बारे में कुछ ऐसी बातें बताते हैं, जिन्हें पहनना देश की करोड़ों महिलाओं की ख्वाहिश है.

ऐश्वर्या राय की साड़ियां

देवदास में ऐश्वर्या राय ने ऐसी कई साड़ियां पहनीं, जिन्हें देखकर लोगों की आंखें खुली की खुली रह गईं. देवदास की पारो यानी ऐश्वर्या राय के लुक को खास बनाने के लिए संजय लीला भंसाली ने खासी मेहनत की थी. डिजाइनर नीता लुल्ला के साथ मिलकर उन्होंने कोलकाता के भी चक्कर काटे थे और कोई 100-200 नहीं बल्की 600 साड़ियां खरीदी थीं. इन्हीं साड़ियों को मिक्स एंड मैच करके ऐश्वर्या राय के लिए अलग-अलग लुक तैयार किए गए थे.

देवदास में ऐश्वर्या राय की साड़ियां खूब चर्चा में रही थीं.

माधुरी दीक्षित के लाखों के लहंगे

फिल्म में माधुरी दीक्षित के पहने लहंगे भी कम चर्चा में नहीं रहे. अबु जानी-संदीप खोसला के डिजाइन किए माधुरी दीक्षित के एक-एक लहंगे की कीमत 15 लाख से ऊपर की थी. ‘काहे छेड़-छेड़ मोहे’ के दौरान एक्ट्रेस का पहना लहंगा 30 किलो से भी ज्यादा वजन था. जिसे बाद में एक 16 किलो वजनी लहंगे से रिप्लेस किया गया. इन्हें कम्लीट करने में कारीगरों को महीनों का समय लगा था.

madhuri dixit, madhuri dixit devdas

माधुरी दीक्षित ने ‘काहे छेड़-छेड़ मोहे’ में 16 किलो वजनी लहंगा पहना था.

क्रू का टीम थे 700 से ज्यादा लाइटमैन

उस समय, एक फिल्म के सेट में आमतौर पर दो या तीन जनरेटर होते थे, लेकिन संजय लीला भंसाली ने देवदास के सेट पर, रिकॉर्ड 42 जनरेटर का उपयोग किया गया था. वहीं लाइटमैन भी 700 से ज्यादा थे और इसी का नतीजा है कि फिल्म में इतने भव्य दृश्य देखने को मिले.

20 करोड़ से भी ज्यादा कीमत का सेट

जिस वक्त देवदास रिलीज हुई, ये उस समय की सबसे महंगी फिल्म थी. फिल्म की लागत 50 करोड़ से भी ज्यादा का खर्चा किया गया. जिसे सुनने के बाद हर किसी के मुंह खुले रह गए. फिल्म के निर्माता भरत शाह को 2001 में एक जांच के बाद गिरफ्तार किया गया था, जिसमें कहा गया था कि फिल्म के लिए अंडरवर्ल्ड ने फंडिंग की है. इसके बाद फिल्म का भविष्य भी खतरे में आ गया.



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here