24 साल बाद बेटे से भावुक मिलन: पिता ने अगवा बेटे की तलाश में 5 लाख किमी बाइक चलाई, खतरनाक एक्सीडेंट हुआ, भीख भी मांगी; आखिरकार DNA से हुई पहचान

0
9
Advertisement



चीन के शेडोंग प्रांत में 24 साल पहले अगवा किए गए एक बेटे से माता-पिता का मिलन काफी भावुक कर देने वाला रहा। जब लड़के को अगवा किया गया, तब उसकी उम्र सिर्फ 2 साल थी। पुलिस की मदद से उसे खोजा गया। अब वह 26 साल का जवान हो चुका है। माता-पिता ने उसे दौड़कर गले लगा लिया और जोर-जोर से रोने लगे। यह देखकर वहां मौजूद दूसरे लोगों की आंखें भी नम हो गईं।

पिता ने जान जोखिम में डाली, लेकिन हिम्मत नहीं हारी
ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, पिता गुओ गंगतांग के लिए तो यह पल और भी ज्यादा खुशी देने वाला था, क्योंकि उनकी तपस्या पूरी हो चुकी थी। उन्होंने 20 राज्यों में बेटे को तलाशा। जहां भी संभावना होती वे वहीं अपनी मोटरसाइकिल से पहुंच जाते थे। इस तरह उन्होंने करीब 5 लाख किलोमीटर का सफर तय किया। 10 मोटरसाइकिलें खराब हो गईं। उनका एक खतरनाक एक्सीडेंट भी हुआ, जिसमें कई हडि्डयां भी टूट गईं। एक बार तो लुटेरों ने उन पर फायरिंग भी कर दी, लेकिन गनीमत रही कि वे बच गए।

बेटे को तलाशने में पूंजी गंवाई, भीख भी मांगनी पड़ी
पिता गुओ मोटरसाइकिल पर बेटे की तस्वीर का बैनर लगाकर चलते थे। उन्होंने बेटे को तलाशने में पूरी जमा पूंजी गंवा दी। भीख तक मांगी। कई बार पुल के नीचे भी सोना पड़ा, लेकिन हार नहीं मानी। बाद में वे चीन में लापता लोगों के संगठनों के प्रमुख सदस्य बन गए। उन्होंने सात अन्य पेरेंट्स को भी उनके अगवा बच्चे से मिलाने में मदद की।

इस घटना पर फिल्म भी बनाई गई
बेटे को तलाशने के लिए गुओ की कोशिशें चीन में कितनी चर्चित रहीं, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 2015 में उन पर ‘लॉस्ट एंड लव’ फिल्म बनाई गई। इसमें हॉन्गकॉन्ग के सुपरस्टार एंडी लाउ ने काम किया है। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के अनुसार बच्चे के मिलने की सूचना पाकर लाउ ने गुओ को बधाई दी।

अगवा लोगों की पहचान के लिए देश भर में DNA टेस्टिंग हो रही
चीन में अगवा किए गए या बिछड़े हुए लोगों की तलाश के लिए पुलिस ने इस साल बड़े पैमाने पर एक अभियान चलाया है। इसमें परिजन का पता लगाने के लिए DNA टेस्टिंग की मदद ली जा रही है। गुओ का बेटा भी DNA टेस्टिंग से ही मिल पाया।

गुओ के बेटे को अगवा करने के आरोप में एक महिला और उसके साथी को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बच्चे को हेनान प्रांत में बेच दिया था। चीन में बाल तस्करी एक बड़ी समस्या है। 2015 में अनुमान लगाया गया था कि यहां हर साल 20,000 बच्चों का अपहरण होता है, जिन्हें देश से बाहर भी बेचा जाता है।

पुलिस ने अपराध को रिपोर्ट करने के लिए एक फोन ऐप लॉन्च किया था। इसमें चोरी, ड्रग डीलिंग और हत्या के साथ बाल तस्करी की भी कैटेगरी थी। बाल तस्करी की घटनाओं में पीड़ित के रिश्तेदारों या पड़ोसियों के शामिल होने का भी खुलासा हुआ है।



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here