MI टीम का SWOT एनालिसिस: ऑलराउंडर्स मुंबई इंडियंस की सबसे बड़ी ताकत, लेकिन स्पिन डिपार्टमेंट अभी भी कमजोर

0
11


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Will Mumbai Win The Sixth Title On The Basis Of Top Order Batting And Finishers? Spin Department Still Weak

भोपाल27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

19 सितंबर से UAE में IPL फेज-2 का आगाज होने जा रहा है। पिछले साल भी कोरोना के चलते टूर्नामेंट का आयोजन UAE में किया गया था और रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई इंडियंस की टीम ट्रॉफी जीतने में सफल रही थी। इस बार भी टीम को खिताबी जीत का फेवरेट माना जा रहा है। फेज-1 के दौरान मुंबई का मिलाजुला प्रदर्शन देखने को मिला था। टीम ने 7 मैच खेले थे और 4 जीते थे जबकि तीन में टीम को हार का सामना करना पड़ा था। फिलहाल टीम पॉइंट्स टेबल में 8 अंकों के साथ चौथे स्थान पर है।

रोहित एंड कंपनी IPL इतिहास में सबसे ज्यादा 5 बार टूर्नामेंट जीतने वाली इकलौती टीम है। पिछले दो सीजन में भी टीम ट्रॉफी जीतने में कामयाब रही है और इस बार टीम की नजरें खिताबी जीत की हैट्रिक पर होगी। IPL-13 में टीम ने UAE के मैदानों पर शानदार प्रदर्शन किया था। UAE में टीम ने कुल 21 मैच खेले हैं और 11 जीतने में सफल रही है। इन मैदानों पर टीम का जीत प्रतिशत 52% रहा है और सबसे अच्छी बात ये है कि यह कि परिस्थितियां टीम के गेंदबाजों को बहुत रास आती है।

फेज-2 में मुंबई की टीम में कोई बदलाव नहीं हुआ है। टीम के लिए सभी मुख्य खिलाड़ी UAE लेग के लिए उपलब्ध रहेंगे। IPL 2021 के बचे हुए मैचों में टीम के लिए क्या अवसर हो सकते हैं और टीम की क्या कमजोरी है। इस लेख में हम ऐसे ही कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं के साथ MI की टीम का SWOT एनालिसिस करते हैं। यानी टीम की मजबूती (Strength), कमजोरी (Weakness), अवसर (Opportunity) और खतरे (Threat) का विश्लेषण।

स्ट्रेंथ-1 पॉवरफुल बल्लेबाजी
मुंबई इंडियंस के पास रोहित शर्मा और क्विंटन डी कॉक के रूप में सबसे बेहतरीन ओपनिंग जोड़ी मौजूद है। रोहित और डी कॉक ने टीम को कई बार शानदार पार्टनरशिप कर जीत दिलाई है। पॉवर-प्ले के दौरान यह जोड़ी हमेशा विपक्षी टीम पर हावी रही है। दोनों ही खिलाड़ी मौजूदा समय में बढ़िया फॉर्म में भी हैं। इसके बाद टी-20 स्पेशलिस्ट सूर्यकुमार यादव और ईशान किशन मिडिल ऑर्डर को मजबूती देते नजर आएंगे।

टीम के पास फिनिशर्स के रूप में हार्दिक पंड्या, किरोन पोलार्ड और क्रुणाल पंड्या मौजूद है। बल्लेबाजी में इतने विकल्प होने के बाद टीम के पास क्रिस लिन जैसा आक्रामक ओपनर भी मौजूद है। जो मौका मिलने पर अकेले मैच की तस्वीर बदलने का माद्दा रखते हैं।

स्ट्रेंथ-2 गेंदबाजी में अनुभव मौजूद
मुंबई इंडियंस के पास गेंदबाजी डिपार्टमेंट में जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट जैसे नाम मौजूद है। बुमराह और बोल्ट की जोड़ी को दुनिया की सबसे खतरनाक जोड़ियों में से एक माना जाता है। शुरूआती ओवर्स में बुमराह और डेथ ओवर्स में बोल्ट अपनी गेंदबाजी से टीम को मजबूती देते हैं। इसके अलावा नाथन कुल्टर नाइल ने भी टीम के लिए अच्छा काम किया है।

अवसर

  • मुंबई इंडियंस IPL की सबसे संतुलित टीम मानी जाती है। टीम के पास वर्ल्ड क्लास बैट्समैन, अव्वल दर्जे के गेंदबाज और विश्व स्तरीय ऑलराउंडर मौजूद है। इनके दम पर टीम आसानी से प्ले-ऑफ में जगह बना सकती है।
  • कप्तानी में रोहित शर्मा की तजुर्बा और उनकी हालिया फॉर्म टीम के लिए फायदे का सौदा हो सकती है।
  • अंतिम ओवरों में तेजी से रन बनाने के लिए टीम के पास हार्दिक पंड्या और किरोन पोलार्ड जैसे नाम मौजूद है, जो एक ही ओवर से मुकाबले की तस्वीर बदलने में माहिर है।

कमजोरी
मुंबई इंडियंस का सबसे कमजोर पक्ष टीम की स्पिन गेंदबाजी रही है। टीम के पास राहुल चाहर, क्रुणाल पंड्या, जयंत यादव और पीयूष चावला जरूर मौजूद है, लेकिन चावला को छोड़ दिया जाए तो टीम का स्पिन डिपार्टमेंट बहुत कमजोर नजर आता है। क्रुणाल पंड्या रनों पर अंकुश लगा सकते हैं लेकिन वह विकेट लेने में माहिर नहीं है। वहीं, जयंत यादव को ज्यादा मैच खेलना का मौका नहीं मिलता है। ऐसे में युवा राहुल चाहर पर विकेट लेने का दबाव बढ़ जाता है। फेज-1 के दौरान चाहर ने 7 मैचों में 11 विकेट हासिल किए थे।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here